सुपर फ्लाप तापसी की फिल्म दोबारा भी ढेर, केआरके ने ली चुटकी तो चिड़कर ये बोली एक्ट्रेस

जन्माष्टमी के मौके पर बॉलीवुड की मिस्ट्री ड्रामा 'दोबारा' (DOBAARAA) रिलीज हो गई है. तापसी पन्नू स्टारर ड्रामा साल 2018 में आई स्पैनिश मूवी MIRAGE की आधिकारिक रीमेक है. फिल्म शायद चल भी जाती मगर फिल्म को लेकर रिलीज से पहले दिए एक इंटरव्यू में तापसी पुन्नू ने बोला कि हमारी फिल्म का बायकाट करके दिखाओ और यही बात सोशल मीडिया पर ट्रोल हो गई. जिसके बाद तापसी की फिल्म पानी में डूबने लगी.

सुपर फ्लाप तापसी की फिल्म दोबारा भी ढेर, केआरके ने ली चुटकी तो चिड़कर ये बोली एक्ट्रेस

फिल्म का निर्देशन अनुराग कश्यप ने किया है. अभी कुछ दिन पहले आमिर खान की लाल सिंह चड्ढा के खिलाफ सोशल मीडिया पर जारी निगेटिव कैम्पेन को लेकर अनुराग और तापसी ने मजे लिए थे. उन्होंने कहा था- कोई हमारी फिल्म का भी बायकॉट कर दे. यह भी कहा था कि असल में बायकॉट से बॉलीवुड फ़िल्में फ्लॉप नहीं हो रही हैं. लोगों के पास पैसा ही नहीं है.

केआके पर भड़की तापसी

तापसी पुन्नू के इस जबरदस्त एटिट्यूट को लोग बर्दाश्त नहीं कर पा रहे हैं. इसके बाद सोशल मीडिया पर जब ये सब लोगों को दिखा तो लोगों ने रिएक्श करना शुरु किया और नतीजा लाल सिंह चड्ढा से भी बुरा हुआ. इसी बीच फिल्म क्रिटिक केआके ने भी तापसी पून्नू का मजाक उड़ाते हुए ट्वीट किया कि बायकाट तो उस फिल्म का किया जाता है जिसे लोग देखने आते हों तुम्हारी फिल्म तो कुत्ता भी नहीं देखेगा तो इस फिल्म का कैसे बायकाट किया जा सकता है. और हालात भी कुछ ऐसे ही बने फिल्म ने पहले दिन 72 लाख रुपए ही कमाए.

रिलीज के बाद सोशल मीडिया पर फिल्म के खिलाफ जबरदस्त ट्रेंड नजर आने लगा है. लोगों बायकॉट की अपील के साथ फिल्म ना देखने की अपील कर रहे हैं. ट्विटर पर दोबारा के विरोध में कई 'हैशटैग' ट्रेंड में नजर आ रहे हैं. फिल्म का ऐसा हाल देख कर तापसी पुन्नू से रहा नहीं गया और केआके को सोशल मीडिया पर ही जवाब दिया.

 

समीक्षकों ने अनुराग कश्यप की दोबारा में क्या देखा?

समीक्षकों को फर्स्ट हाफ में दोबारा की स्क्रीनप्ले ग्रिपिंग लगी है. अडाप्टेड स्क्रीनप्ले निहित भावे ने लिखा है. दूसरे हाफ में लेखन पसंद नहीं आया है. हालांकि कुछ संवाद और वन लाइनर तमाम लोगों को भाते दिख रहे हैं. जहां तक बात निर्देशन की है- ज्यादातर लोगों ने अनुराग कश्यप के काम की सराहना ही की है. खासकर उन्होंने दर्शकों को कहीं उलझने नहीं दिया है. मगर ओवरऑल समीक्षाओं में यह निकलकर आ रहा कि कुछ टुकड़ों यानी सीन्स में चीजें जिस तरह असरदार दिखी हैं वह पूरी फिल्म में नजर नहीं आतीं. कहीं संवाद अच्छे हैं, कहीं सीन्स अच्छे हैं और कहीं स्टार्स का परफॉर्मेंस दमदार दिखता है. सिलसिला नहीं दिखता और इसकी वजह से फिल्म कमजोर बन जाती है. कुछ ने तो यह भी कहा- अब तक यह अनुराग की सबसे कमजोर फिल्म है.

  बात परफोर्मेंस की 

जहां तक बात स्टार्स के परफॉर्मेंस की है लोगों को तापसी पन्नू अच्छे फॉर्म में लग रही हैं. फिल्म उनके कंधे पर है भी. कुछ सीन्स में तो उन्होंने बहुत ही लाजवाब काम किया है. वैसे सोशल मीडिया पर कुछ लोग इसका भी क्रेडिट अनुराग कश्यप को दे रहे कि उन्होंने तापसी के बेस्ट को निकालने की कोशिश की है. राहुल भट्ट, पावली गुलाटी, सुकांत गोयल विदुषी मेहरा, और दूसरे कलाकारों का काम भी लोगों को अपनी जगह ठीकठाक लगा है. ओवरऑल दोबारा की रेटिंग बहुत ठीक नहीं है. समीक्षकों ने 5 में से 2 और किसी किसी ने 3.5 तक रेट किया है.