शरीफ हाशमी ने हिंदू युवती का धर्मांतरण कराकर उससे जबरन निकाह किया, फिर कर दिया कत्‍ल, पिता की शिकायत पर गिरफ्तार

वाराणसी में शरीफ हाशमी नाम के एक मुस्लिम युवक द्वारा हिंदू युव‍ती का पहले अपहरण और फिर जबरन युवती का धर्मांतरण कराकर जबरदस्‍ती निकाह करने और फिर उसकी हत्‍या के मामले में आरोपित को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया. इस मामले में युवती के पिता की शिकायत पर पुलिस ने आरोपित के खिलाफ कार्रवाई करते हुए गिरफ्तार कर उसे जेल भेज दिया.

शरीफ हाशमी ने हिंदू युवती का धर्मांतरण कराकर उससे जबरन निकाह किया, फिर कर दिया कत्‍ल, पिता की शिकायत पर गिरफ्तार
concept pic

पहले बेटी की हत्‍या अब पिता को धमकी

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार हिंदू युवता का जबरन धर्मांतरण और फिर उसकी निकाह के बाद हत्‍या का यह मामला वाराणसी का है. जहां शरीफ हाशमी नाम के एक मुस्लिम युवक पर युवती के पिता ने धर्मांतरण और निकाह के बाद हत्‍या का आरोप लगाते हुए केस दर्ज कराया था. वहीं युवती के पीड़‍ित पिता का आरोप है कि आरोपित ने पहले बेटी को मारा और अब वह उनको भी धमकी दे रहा है. जिसके चलते पुलिस ने धर्मांतरण सहित कई अन्‍य धाराओं में केस दर्ज किया था.

 

एक पिता की पीड़ा

वाराणसी में कैंट के फुलवरिया की वरुणापुरी कॉलोनी में रहने वाले रिटायर्ड फौजी हरिनारायण पांडेय ने थाने में मुकदमा दर्ज कराया था. जिसमें उन्‍होंने बताया था कि उनकी पुत्री श्वेता का शरीफ हाशमी नामक युवके ने अपहरण कर लिया था. फिर उनकी बेटी को धमका कर धर्म परिवर्तन कराया और जबरन शादी कर ली. हरिनारायण ने आशंका जताई की शरीफ ने श्वेता की हत्या कर दी है. वाराणसी में कैंट के फुलवरिया में धर्म परिवर्तन कराकर शादी करने और इसके बाद युवती की हत्या का मामले में पुलिस ने आरोपित शरीफ हाशमी को रविवार को गेट नंबर पांच के पास से गिरफ्तार कर लिया.

 

आरोपी को भेजा जेल

युवती के पिता हरिनारायण का आरोप है कि शरीफ हाशमी बीती 15 मई की सुबह छह बजे उनके घर आया था और कहा था कि उसने श्वेता की हत्या कर दी है. अगर वह उसे दस लाख रुपये नहीं देंगे तो उनकी भी हत्या कर देगा. उनके मकान का ताला तोड़कर कब्जा करने की धमकी भी दी. इस मामले में हरिनारायण की तहरीर पर कैंट थाने में शरीफ हाशमी के खिलाफ धर्म प्रतिषेध अधिनियम, हत्या समेत अन्य आरोप में मुकदमा दर्ज किया गया है. बताया गया कि पुलिस टीम के निरीक्षक परमहंस गुप्ता, उप निरीक्षक सुरेंद्र प्रसाद यादव ने शरीफ हाशमी को गिरफ्तार किया और उसके बाद उसे जेल भेज दिया गया. जिसके बाद इस मामले में आगे की कार्रवाई की जा रही है.