पाकिस्‍तान का जंगी जहाज “आलमगीर” भारत के डोर्नियर की दहाड़ सुनकर भागा, भारतीय सीमा में कर रहा था घुसपैठ की कोशिश

पाकिस्‍तान का जंगी जहाज पीएनएस आलमगीर भारत की सीमा में घुसने की कोशिश कर रहा था, लेकिन इससे पहले ही कोस्‍ट गार्ड पर तैनात भारत के डोर्नियर सर्विलांस एयरक्राफ्ट को उड़ता देख भाग खड़ा हुआ. इसके बाद से पाकिस्‍तान के नापाक इरादों को देखते हुए गुजरात की समुद्री सीमा पर सुरक्षा की दृष्टि से निगरानी बढ़ा दी गई थी.

पाकिस्‍तान का जंगी जहाज “आलमगीर” भारत के डोर्नियर की दहाड़ सुनकर भागा, भारतीय सीमा में कर रहा था घुसपैठ की कोशिश
भारत के डोर्नियर की दहाड़ सुनकर भागा आलमगीर

समुद्री सीमा से घुसपैठ की थी कोशिश

पाकिस्‍तान और चीन की नापाक नजरें भारत की सीमा पर टिकी रहती हैं, कब मौका मिले और भारत में घुसपैठ करें. लेकिन भारत के सुरक्षा कवच को तोड़कर घुसपैठ करना अब आसान नहीं है. यह हाल ही में देखने को मिला भारत में गुजरात की समुद्री सीमा पर, जहां पाकिस्‍तान का जंगी जहाज पीएनएस आलमगीर समुद्री रास्ते से भारत में घुसपैठ करने की कोशिश कर रहा था. लेकिन, इंडियन कोस्ट गार्ड पर तैनात भारत के डोर्नियर सर्विलांस एयरक्राफ्ट ने उसे खदेड़कर भारत की सीमा से बाहर कर दिया.

 

पहले चेतावनी दी और फिर

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक पाकिस्‍तान के जंगी जहाज पीएनएस आलमगीर को गुजरात की समुद्री सीमा के भीतर आता देख पहले भारतीय एयरक्राफ्ट ने उसे चेतावनी जारी की, लेकिन इसके बावजूद भी वह भारत की ओर बढ़ता रहा और चेतावनी का भी कोई जवाब नहीं दिया. वहीं बताया गया कि भारत ने अपनी ओर से कोई एक्शन लेने से पहले उसके रेडियो संचार सेट पर कॉल भी किया. मगर फिर भी पाकिस्‍तानी सेना की ओर से कोई जवाब नहीं आया. इसके बाद भारतीय डोर्नियर ने उस जहाज को खदेड़ने की कार्रवाई शुरू की, जिसे देख पाकिस्तानी जहाज का कप्तान घबराकर अपने आलमगीर को भारतीय समुद्री सीमा से बाहर भाग निकला.

 

डॉर्नियर की दहाड़ से डरा आलमगीर

रिपोर्ट के अनुसार भारतीय सीमा से आलमगीर को भगाने के लिए इंडियन डोर्नियर ने उसके सामने जैसे ही दो से तीन दफा एग्रेसिव फॉर्मेशन में उड़ान भरी. डोर्नियर की दहाड़ सुनकर पीएनएस आलमगीर के कप्तान को लग गया था कि भारत गुस्से में एक्शन लेने की बात कर रहा है. वहीं पीएनएस के वापस जाते समय भारत ने उस पर लगातार नजर गड़ाए रखीं. बता दें कि घुसपैठ की यह घटना जुलाई 2022 के शुरुआती दिनों की हैं. पाकिस्तानी पीएनएस ने गुजरात के नजदीक समुद्री सीमा में घुसने की कोशिश की थी. ये वो जगह है जहां भारत अपने देश के मछुआरों को भी जाने की अनुमति नहीं देता है. यहां की सुरक्षा में इंडियन कोस्ट गार्ड और इंडियन एयर फोर्ट तैनात रहते हैं, ताकि पाकिस्तान की किसी भी घटिया हरकत को अंजाम तक पहुंचने नहीं दिया जा सके.

 

सीमा पर कड़े सुरक्षा प्रबंध

बताया गया कि यहां की सुरक्षा को देखने के लिए कुछ दिन पहले ही डायरेक्टर जनरल वी.एस. पठानिया ने भी पोरबंदर क्षेत्र का दौरा किया था. इस दौरान उन्होंने तटीय इलाके की निगरानी के लिए नए कोस्ट गार्ड में ध्रुव हेलिकॉप्टर्स को भी शामिल किया था. इन्हीं एयरक्राफ्ट, हेलिकॉप्टर्स और कोस्ट गार्ड के जहाजों से दिन-रात समुद्री तट की निगरानी होती है. इनका काम आने वाले खतरों पर नजर रखना होता है.