Video: 3700 किलो विस्फोटक, 8 सेकेंड, भ्रष्टाचार का ट्विन टॉवर जमींदोज, धूल के बादल ने ढका इलाका

नोएडा. नोएडा सेक्टर 93 ए स्थित ट्विन टावर आखिरकार आठ सेकंड के अंदर जमींदोज हो गया. बिल्डिंग गिरते ही चारों ओर मलबे का धुआं ही धुआं देखने को मिला. जब ट्विन टावर को गिराया गया तो यहां मौजूद लोगों को एक तेज धमाका सुनाई दिया. लोगों को धरती कांपते हुई भी महसूस हुई. देखते ही देखते पूरे इलाके में धुएं का गुबार छा गया.

धूल को कम करने की कोशिश

ट्विन टावर में धमाका होते ही पूरी बिल्डिंग पलक झपकते ही नीचे गिर गई. लेकिन धूल का गुबार हर तरफ फैल गया. फिलहाल धूल को कम करने का काम शुरू हो चुका है. इसके लिए पहले से तैनात की गई स्मोक गन्स का सहारा लिया जा रहा है. इसके अलावा पानी का छिड़काव भी किया जा रहा है. ध्वस्तीकरण स्थल के पास स्थित पार्श्वनाथ प्रेस्टीज एवं पार्श्वनाथ सृष्टि सोसाइटी, गेझा, सेक्टर-92, 93, 93ए, 93बी आदि आवासीय क्षेत्रों में निवासियों, बच्चों, बुजुर्गों व सांस के रोगियों को एहतियात के तौर पर मास्क लगाने की अपील की गई है।

31 अगस्त तक होगी वायु प्रदूषण की निगरानी

यूपी प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने ट्विन टावर के आसपास छह से अधिक अस्थायी मशीनों को लगाया है. इनकी मदद से टीम 31 अगस्त तक वायु प्रदूषण पर निगरानी रखेगी. रोजाना दस बजे वायु प्रदूषण के आंकड़े जारी किए जाएंगे. इस टॉवर को गिराने में 3700 किलो विस्फोटक का इस्तेमाल किया गया. इसे गिराने के लिए अत्याधुनिक कंट्रोल ब्लॉस्ट टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया गया. एहतियात के तौर पर नोएडा एक्सप्रेस वे, नोएडा-ग्रेटर नोएडा मार्ग समेत कई रास्ते बंद किए गए थे, जो विस्फोट के बाद खोल दिए गए.