काले कपड़ों में कांग्रेस: संसद से सड़क तक काले कपड़े पहनकर विरोध प्रदर्शन, राहुल और प्रियंका को हिरासत में लिया

कांग्रेस ने महंगाई और बेरोजगारी के खिलाफ संसद से लेकर सड़कों तक जमकर हंगामा किया. जहां कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष और सांसद सोनिया गांधी ने विरोध प्रदर्शन का संसद में नेतृत्‍व किया, वहीं प्रियंका और राहुल गांधी सहित बड़े नेताओं ने सड़कों पर हंगामा काटा. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पु‍लिस ने पहले राहुल गांधी हिरासत में लिया और फिर प्रियंका गांधी को हिरासत में ले लिया. वहीं मीडिया रिपोर्ट के अनुसार माना जा रहा है कि यह विरोध प्रदर्शन महंगाई के बहाने ईडी के खिलाफ है.

काले कपड़ों में कांग्रेस: संसद से सड़क तक काले कपड़े पहनकर विरोध प्रदर्शन, राहुल और प्रियंका को हिरासत में लिया
photo sources: twitter

कांग्रेस मुख्‍यालय पर की प्रेस कॉन्‍फ्रेंस

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार शुक्रवार 05 अगस्‍त 2022 को कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने राजधानी दिल्ली में अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी (AICC) के मुख्यालय में पर एक प्रेस कॉन्फ्रेंस की. इस दौरान उन्होंने सत्तारूढ़ बीजेपी पर जमकर हमला बोला. वहीं, उनका पार्टी शुक्रवार को महंगाई और बेरोजगारी के खिलाफ देशव्यापी आंदोलन कर रही है. इस दौरान राहुल-प्रियंका सहित कई सांसद काले रंग के कपड़े पहने हुए नजर आए. महंगाई और बेरोजगारी के विरोध में उन्‍होंने कल ही केंद्र सरकार के खिलाफ कहा था कि “मैं किसे से नहीं डरता हूं, जो करना है कर लें.

राहुल को हिरासत में लिया

रिपोर्ट के अनुसार कांग्रेस के सांसद राहुल गांधी को हंगामे और प्रदर्शन के दौरान हिरासत में लिया गया है. वहीं राहुल गांधी को हिरासत में लिए जाने पर दिल्ली पुलिस की डीसीपी अमृता गुगुलोथ ने कहा, ''हमने उनको हिरासत में लिया है क्योंकि यहां धारा 144 लागू है और धरना प्रदर्शन करने की अनुमति नहीं है. हमने उनको सूचित भी किया था, लेकिन वे नहीं माने इसलिए हमने उनको हिरासत में लिया है.''

सोनिया गांधी और हरीश रावत भी हिरासत में लिए

वहीं बताया गया है कि दिल्ली में महंगाई और बेरोजगारी पर केंद्र सरकार के खिलाफ कांग्रेस पार्टी के विरोध प्रदर्शन के दौरान पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत को पुलिस ने हिरासत में लिया है. विरोध प्रदर्शन के दौरान हिरासत में लिए गए कांग्रेस सांसद दीपेंद्र सिंह हुड्डा ने कहा, ''हम महंगाई और बेरोजगारी पर आवाज उठाना चाहते हैं. ये सरकार नौजवानों के भविष्य को बिगाड़ने का काम कर रही है. आज देश में महंगाई और बेरोजगारी को लेकर हम आवाज उठाना चाहते हैं, लेकिन हमें निशाने पर ले रहे हैं.''

 

कई सांसद भी शामिल

दिल्‍ली में केंद्र सरकार के खिलाफ प्रदर्शन के दौरान राहुल गांधी और शशि थरूर समेत कांग्रेस के कई सांसदों को पुलिस ने हिरासत में लिया है. इस दौरान राहुल गांधी ने कहा, ''हम शांति से राष्ट्रपति भवन जाना चाहते थे. रैली में सभी लोग राज्यसभा और लोकसभा के सांसद हैं मगर हमें जाने की अनुमति नहीं दी जा रही है. महंगाई और बेरोजगारी के मुद्दों को लेकर हम यहां हैं. लोकतंत्र की हत्या हो रही है.'' उन्होंने आगे कहा, ''हमारा काम ये सुनिश्चित करना है कि भारतीय लोकतंत्र सुरक्षित हो. हमारा काम जनता के विषयों को उठाना है और हम अपना काम कर रहे हैं.''

काली ड्रेस में दिखे नेता

यूपीए सरकार में वित्त मंत्री रहे और वर्तमान सांसद पी चिदंबरम भी काले ड्रेस में नजर आए. आंदोलन के दौरान मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा, ''यह विरोध मंहगाई और अग्निपथ को लेकर है. मंहगाई सभी को प्रभावित करती है. एक राजनीतिक दल के रूप में और एक निर्वाचित प्रतिनिधि के रूप में हम जनता के बोझ के लिए आवाज उठाने के लिए बाध्य हैं.'' बताया जा रहा है कि कांग्रेस सांसदों ने महंगाई और बेरोज़गारी पर अपना विरोध दर्ज़ कराने के लिए संसद से राष्ट्रपति भवन तक मार्च निकाला. कांग्रेस सांसद राहुल गांधी भी मार्च में शामिल हुए हैं. कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने कहा, ''यह बात स्पष्ट है कि इस देश की जनता पर जो प्रहार हो रहे हैं, उसके लिए हम लड़ रहे हैं. ये लड़ाई लंबी है और हम लड़ते रहेंगे. बेरोजगारी और महंगाई हमारा मुद्दा है.''