आगरा की गालीबाज टीचर ने गार्ड पर बरसाए डंडे, जमकर दी गालियां, देखिये वीडियो

अभी हाल ही में नोएडा से एक गालीबाज नेता और थप्‍पड़बाज महिला का वीडियो वायरल हुआ था. जिसके बाद दोनों पर पु‍लिस ने कार्रवाई करते हुए गिरफ्तार कर लिया. वहीं अब आगरा में एक गालीबाज और लाठीबाज महिला शिक्षका की दबंगई का वीडियो सामने आया है. महिला द्वारा दी जा रही गालियों से अंदाजा लगाया जा सकता है कि कान के पर्दे शायद सहन नहीं कर पाते. इस महिला ने गालियों की बौछार तो की, साथ ही गार्ड पर डंडे भी बरसाए. देखिये इस महिला की गालियों से भरा वीडियो.

कुत्तों के विवाद पर गालियां

आगरा में सामने आए गालीबाज महिला के वीडियो में बताया जा रहा है कि कुत्तों के विवाद को लेकर महिला शिक्षिका गुस्से में आई और दबंगई दिखाते हुए से गार्ड के ऊपर दे दनादन कर दिया. सोशल मीडिया पर वायरल इस वीडियो में आप देख सकते हैं कि किस तरह यह महिला शिक्षि‍का गार्ड पर लाठियां भांजती है और गालियों की बौछार करती है. फिलहाल पीड़ित की तहरीर पर मुकदमा दर्ज करते हुए पुलिस आरोपी महिला के खिलाफ जांच कर कार्रवाई में जुट गई है.

गार्ड है पूर्व सैनिक

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार रविवार को सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी के साथ वायरल हुआ है, जिसे न्यू आगरा कॉलोनी बी-ब्लॉक में एलआईसी परिसर का बताया जा रहा है. जहां पूर्व सैनिक अखिलेश एलआईसी में बतौर गार्ड काम करते हैं. शनिवार की देर शाम कुछ महिलाएं एलआईसी परिसर में पहुंची और उन्होंने पूर्व सैनिक गार्ड अखिलेश सिंह पर कुत्तों से गलत व्यवहार करने का आरोप लगाते हुए हंगामा कर बवाल काटना शुरू कर दिया. वहीं भाजपा नेत्री की अगुवाई में पहुंची महिलाओं द्वारा गार्ड के ऊपर रौब गालिब करते हुए जमकर गालियां दी गई. इस बीच एक महिला टीचर ने गार्ड पर गालियां देते हुए डंडे बरसाने शुरू कर दिए.

 

गार्ड खड़ा रहा और पिटता रहा

इस पूरी घटना का गार्ड ने वीडियो बना लिया. जिसमें महिला टीचर की अभद्रता और मारपीट साफ दिखाई दे रही है. जिसको लेकर पुलिस के पास पहुंच गार्ड ने मामले की शिकायत की. वायरल हो रही वीडियो में दिखाई दे रहा है कि दबंगई दिखाने वाली महिला शिक्षिका किसी के साथ फोन पर बात करते हुए गार्ड के खिलाफ कार्यवाही कराने की बात कह रही है. इस मामले में प्रभारी निरीक्षक विजय विक्रम सिंह ने बताया है कि गार्ड अखिलेश ने महिला की शिकायत की है और मारपीट के वीडियो भी उपलब्ध कराए हैं. इस संबंध में मुकदमा दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है.